html Basic in hindi

html hindi tutorial | html in hindi

html basic in hindi

html tutorials in Hindi

html – hyper text markup lanugage

html क्या है ( what is html in hindi )

html एक markup language है जो वेब पृष्ठों बनाने के काम आती है और यह वेब डिजाईन की बेसिक language है , इसी language के द्वारा किसी वेब पेज का structure तैयार होता | यह बहुत ही आसन language है और इसको कोई भी आसानी से सिख सकता है , यह इतना आसान है की आप इसके बेसिक को मात्र 30 मिनट में सिख सकते हैं |

html पढना क्यों जरुरी है या html पढने के क्या फायदे हैं ( benifits of html in hindi )

अगर आप एक वेब डिज़ाइनर या app डिज़ाइनर बनना चाहते हैं तो html सीखे बिना आप बन नहीं सकते | यदि आप एक ब्लॉगर हैं या एक ब्लॉगर बनना चाहते हैं तो भी आपको आपको html सीखना चाहिए , हालाँकि एक ब्लॉगर के लिए html सीखना उतना जरुरी नहीं होता और बिना html सीखे भी आपका काम हो सकता है , लेकिन html सिखने के बाद आपका काम आसान हो जाएगा |

html सिखने के लिए आवश्यक सॉफ्टवेयर ( Software to learn html in hindi )

html सिखने के लिए आपको बस टेक्स्ट एडिटर की जरुरत होती है , जैसे- विंडोज के लिए नोटपैड या नोटपैड ++ , लिनक्स के लिए डिफ़ॉल्ट टेक्स्ट एडिटर और mac के लिए textedit. ये सॉफ्टवेयर आपको अलग से इंस्टाल करने की जरूरत नहीं है , यह पहले से ही आपके कंप्यूटर में इंस्टाल होते हैं | इनमे से नोटपैड ++ आपको अलग से download करना होगा , यह बहुत ही छोटा सॉफ्टवेयर ( लगभग 5 mb ) है और use करने के लिए free है , आप इसे यहाँ click करके download कर सकते हैं और अगर आप विंडोज यूजर हैं तो मैं आपको यही सलाह दूंगा की आप नोटपैड ++ का use करें | और html कोड को टेस्ट करने के लिए एक ब्राउज़र ( जैसे – chrome, firefox , internet explorer etc.) की जरुरत होगी | पर मैं आपको यह suggest करूँगा की आप chrome ब्राउज़र का उपयोग कीजिए | इस tutorial में मैं नोटपैड ++ और chrome ब्राउज़र का उपयोग कर रहा हूँ |

कोड को html फोर्मेट में save कैसे करते हैं ?

कोड को html फाइल में save करना बहुत ही आसान है , बस आपको ध्यान देना है की फाइल का जो भी नाम हो उसके बाद .htm या .html जरुर हो | जैसे- myfile.htm , myfile.html

नोटपैड ++ में file पर click कीजिये और उसके बाद save पर click कीजिये | अब आप जिस स्थान पर अपनी फाइल save करना चाहते हैं , वह स्थान चुनिए , फाइल का नाम दीजिये और फाइल टाइप में Hyper text markup language {.htm, .html} select कीजिये और save बटन दबाइए, बस आपकी फाइल save हो गयी | जब एक बार आपने अपनी फाइल save कर लिया , और बाद में कोड में कोई change करते हैं तो आपको फिर से यह प्रक्रिया दोहराने की जरुरत नहीं है , बस ctrl+s दबाइए और आपकी फाइल save हो जाएगी |

तो चलिए जानते हैं html के बारे में-

html बेसिक ( html basic in hindi )

किसी भी html कोड के दो भाग होते हैं पहला head और और दूसरा body , head पार्ट में article का title और अन्य जानकारियां होती हैं ( उसके बारे में हम आगे की पोस्ट में बात करेंगे ) , head tag के अन्दर लिखा हुआ कुछ भी पेज पर दिखाई नहीं देता है तथा body पार्ट में पेज के वे भाग होते हैं , जो पेज पर दिखाई देते हैं , जैसे- heading , pairagraph , image etc. कोई भी html code

से शुरू होता है और से बंद होता | यहाँ <t> को open टैग और </t> को closed टैग कहते हैं | चलिए एक उदाहरण से समझते हैं –

किसी भी html कोड का structure इस तरह से होता है –

<head> </head>

यहाँ head टैग के अंदर हम पेज का title लिखते हैं , पर ध्यान दीजिये यह वह आपके वेबसाइट पर दिखाई नहीं देगा और यह वह title है तो ब्राउज़र के tab में लिखा होता |

उदाहरण -निचे लिखे हुए कोड को नोटपैड या नोटपैड ++ में टाइप कर लीजिये और ctrl + S दबाकर फाइल को save कर लीजिए |

<head> <title> Web Page </title></head>

अब इस कोड को रन करके देखिये , रन करने के लिए नोटपैड ++ में ऊपर दिए गए menu bar में run पर click कीजिये और जिस ब्राउज़र में आप कोड को रन करना चाहते हैं उसका आप्शन चुनिए | जैसे chrome के लिए ‘ launch in chrome’ पर click करें | ( फाइल को रन करने के लिए आप शॉर्टकट कुंजियो का भी उपयोग कर सकते हैं , जैसे – chrome के लिए shortcut button ctrl+alt+shift+r है |

फाइल को ब्राउज़र में open करने के बाद आप देखेंगे की पूरा पेज blank है और वहाँ कुछ दिखाई नहीं दे रहा है , ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि हमने body टैग के अन्दर कुछ नही लिखा है |

अब निचे लिखे दुसरे उदाहरण को नोटपैड ++ में टाइप कर लीजिये और ctrl+s बटन दबाकर फाइल को save कर लीजिये

<head> <title> Web Page </title></head> </p> <p> html code. </p> <p>

ऊपर लिखे फाइल को जब run करेंगे तो following रिजल्ट आएगा |

html code.

ध्यान दीजिये – p टैग पैराग्राफ के लिए उपयोग किया जाता है , html tags के बारे में हम next पोस्ट में जानेंगे |

पैराग्राफ टैग के अंदर लिखा कोई भी वर्ड ब्राउज़र में दिखाई देगा |

इसी तरह कुछ और लिखकर try कीजिये | फिर मिलते हैं अगले पोस्ट में html के बारे में और अधिक जानकारी के साथ |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *