Indian history in hindi – भारत का इतिहास 

indian history in hindi

 

Indian history in hindi – भारत का इतिहास

Table of Contents

इस सामान्य ज्ञान में भारत के इतिहास ( indian history ) के बारे में पूरी जानकारी दिया गया है जैसे- प्राचीन भारत का इतिहास , मध्यकालीन भारत का इतिहास और आधुनिक भारत का इतिहास | आप भारतीय इतिहास से सम्बंधित इस सामान्य ज्ञान को पीडीऍफ़ में भी डाउनलोड कर सकते हैं |  सामान्य ज्ञान pdf डाउनलोड करने के लिए इस पेज के अंत में जाएँ |

indian history in hindi

प्राचीन भारत का इतिहास

  •  हड़प्पा के मोहनजोदड़ो में एक बहुत विशाल स्नानगार है |
  • मोहनजोदड़ो से नर्तकी की कांस्य प्रतिमा मिली है |
  • हड़प्पा सभ्यता रावी नदी के तट पर स्थित है |
  • सिंधु सभ्यता कांस्य युग से सम्बंधित है |
  • सिंधु सभ्यता के निवासी लोहे से अपरिचित थे |
  • सिंधु सभ्यता के निवासी पशुपति की पूजा करते थे |
  • सिंधु सभ्यता की लिपि चित्रात्मक थी |
  • गोदीबाड़ा हड़प्पा के लोथल से प्राप्त हुआ है |
  • ऋग्वेद सबसे पुराना वेद है | तथा सबसे नया वेद अथर्ववेद है |
  • ऋग्वेद में 10 मंडल , 1028 सूक्ति तथा 10600 मन्त्र है |
  • सामवेद गेय है |
  • यजर्वेद गद्य और पद्य दोनों में लिखा गया है |
  • पुराणों को पंचम वेद कहा गया है |
  •  पुराणों की संख्या 18 है तथा उपनिषदों की संख्या 108 है |
  • वैदिक सभ्यता के निर्माता आर्य (हिन्दू) थे | आर्यों के कारण ही भारत के नाम आर्यावर्त पड़ा है |
  • महावीर स्वामी का जन्म कुंडग्राम में  जातक कुल में हुआ था |
  • महावीर के माता का नाम त्रिशला तथा पिता का नाम सिद्धार्थ था |
  • महावीर स्वामी को ज्ञान की प्राप्ति जननीग्राम में हुआ था |
  • महावीर स्वामी का असली नाम वर्धमान था |
  • महावीर स्वामी के पत्नी का नाम यशोदा तथा उनकी पुत्री का नाम अन्नौजा था |
  • महावीर स्वामी जैन धर्म के 24वे तीर्थकर थे।
  • जैन धर्म के पहले तीर्थकर ऋषभ देव थे |
  • जैन धर्म से 23वे तीर्थकर पार्श्व देव थे |
  • प्रथम जैन समिति का आयोजन पाटलिपुत्र (पटना, बिहार) में हुआ था |
  • पहले जैन समिति की अध्यक्षता स्थूलचन्द ने किया था |

history of india

  • पहला जैन समिति का आयोजन चन्द्रगुप्त मौर्य के शासन काल में हुआ था |
  • द्वितीय जैन समिति का आयोजन वल्लभी में हुआ था |
  • जैन धर्म की प्रमुख शाखाएं श्वेताम्बर तथा दिगंबर है |
  • जैन धर्म के तीन धर्मग्रन्थ अंग , उपांग तथा प्रकीर्णक है |
  • भारत पर आक्रमण करने वाला पहला यूरोपियन सिकंदर था |
  • सिकंदर ने भारत पर 326 ई० पूर्व में आक्रमण किया था | वह मकदूनिया का शासक था |
  • उसके गुरु का नाम अरस्तु तथा घोड़े का नाम बुकाफेला था |
  • विसरता के लड़ाई में सिकंदर ने पौरुष को हराया था , बाद में दोनों दोस्त बन गए थे |
  • प्राचीन भारत का इतिहास ;महाभाष्य के लेखक पतंजलि थे |
  • पतंजलि पुष्यमित्र शुंग के दरबार में रहते थे |
  • कनिष्क कुषाण वंश का शासक था | उसकी राजधानी पुरुषपुर थी |
  • अश्वघोष , नागार्जुन , वसुमित्र तथा चरक कनिष्क के दरबारी थे |
  • पुरुषपुर में चैत्य का निर्माण तथा रेशममार्ग का निर्माण कनिष्क ने कराया था |
  • मौर्य वंश का संस्थापक चन्द्रगुप्त मौर्य थे |
  • इंडिका की रचना मेगस्थनीज ने किया था |
  •  मुद्रा राक्षस की रचना विशाख दत्त ने किया था |
  • अष्टाधायी की रचना पाणिनि ने किया था |
  • अर्थशास्त्र की रचना कौटिल्य (चाणक्य) ने किया था |
  • सेल्यूकस का दूत मेगस्थनीज चन्द्रगुप्त के दरबार में आया था |
  • चन्द्रगुप्त मौर्य अपने जीवन के अंतिम दिनों जैन धर्म अपनाकर श्रवण बेलगोला चले गए |
  • मौर्य वंश का अंतिम शासक बृहद्रथ था |
  • साँची के स्तूप का निर्माण अशोक ने कराया था |
  • अशोक के पुत्र का नाम महेंद्र तथा पुत्री का नाम संघमित्रा था |
  • बौद्ध धर्म के प्रचार तथा प्रसार के लिए अशोक ने अपने पुत्र और पुत्री को श्रीलंका भेजा था |
  • बौद्ध धर्म की तीन शाखाएं हीनयान, महायान तथा ब्रजयान हैं |

history of india in hindi

  • मगध में शासन करने वाला प्रथम वंश हर्यक वंश था |
  • हर्यक  वंश को पितृहता (पिता की हत्या करने वाला) के नाम से जाना जाता है |
  • नदवंश की स्थापना महापद्म नन्द ने किया था |
  • सबसे पुराणी स्मृति मनु स्मृति है |
  • सबसे नयी स्मृति देव स्मृति है |
  • महात्मा बुद्ध का जन्म लुम्बिनी में तथा शाक्य कुल में हुआ था |
  • उनकी माता का नाम महामाया तथा पिता का नाम शुद्दोधन था |
  • महात्मा बुद्ध की पत्नी का नाम यशोधरा तथा पुत्र का नाम राहुल था |
  • महात्मा बुद्ध को गया में ज्ञान की प्राप्ति हुई तथा उन्होंने अपना पहला उपदेश सारनाथ , उत्तर प्रदेश में दिया |
  • बौद्ध धर्म में महात्मा बुद्ध के घर त्यागने की घटना को महाभिनिष्क्रमण कहते हैं |
  • आनंद और उपलि महात्मा बुद्ध के प्रमुख शिष्य थे |
  • त्रिपिटक बौद्ध धर्म से संबधित है |
  • indian history :- आम्रपाली महात्मा बुद्ध की शिष्या थी |
  • महात्मा बुद्ध के उपदेश से पांच ब्राह्मणों द्वारा बौद्ध धर्म अपनाने की घटना धर्मचक्र प्रवर्तन कहलाता है |
  • बौद्ध संघ में प्रवेश करने वाली पहली महिला प्रजापति गौतमी थी |
  • महात्मा बुद्ध ने अपने जीवन का अधिकांश समय श्रावस्ती में व्यतीत किया |
  • महात्मा बुद्ध की मृत्यु कुशीनगर में हुआ था , इस घटना को महापरिनिर्वाण कहते हैं |
  • बुद्ध के समकालीन शासक बिम्बिसार , उदयन तथा प्रसेनजित हैं |
  • पहली बौद्ध संगीति राजगृह में तथा महाकस्पय की अध्यक्षता में तथा आजातशत्रु के शासन काल में हुई |
  • द्वितीय बौद्ध संगती सवकमी की अध्यक्षता में तथा वैशाली में हुई |
  • तृतीय बौद्ध संगीति भोगलीपुत्र तीरथ की अध्यक्षता में तथा पाटलिपुत्र (पटना) में हुई |
  • महात्मा बुद्ध के घोड़े का नाम कंथक था |
  • बुद्धचरित्र की रचना अश्वघोष ने किया था |
  • सत्यमेव जयते मुंडकोपनिषद से लिया गया है |
  • गायत्री मन्त्र ऋग्वेद से लिया गया है |

History of india in hindi pdf

  • वैदिक काल के प्रमुख देवता इंद्र हैं |
  • असतो मा सद्गमय , तमसो मा ज्योतिर्गमय ऋग्वेद से लिया गया है |
  • भगवान विष्णु के कल्कि अवतार का अभी जन्म नहीं हुआ है |
  • वेदों  संख्या चार है |
  • ससुर विवाह में वधु का मूल्य लिया जाता है |
  • भारतीय शास्त्रों की संख्या 6 है |
  • योग दर्शन के संपादक पतंजलि थे |
  • 712 ई० में सिंध पर मोहम्मद बिन कासिम के आक्रमण  के समय वहां का शासक दाहिर था |
  • indian history :- विजय स्तम्भ चित्तौड़गढ़ में स्थित है |
  • सोमनाथ मंदिर पर मुहम्मद गजनवी के आक्रमण के समय गुजरात का शासक भीमदेव प्रथम था |
  • गीत गोविन्द जयदेव ने लिखा था |
  • भारत के लिए सबसे पहले इण्डिया शब्द का उपयोग ग्रीक भाषा में किया गया |
  • चोल राजाओं की राजधानी तंजौर थी |
  • श्रीलंका पर विजय प्राप्त करने वाला राजा राजेंद्र प्रथम था |
  • चालुक्य वंश का सबसे महान राजा पुलिकेशन द्वितीय था |
  • भारत का इतिहास ;राष्ट्रकूट साम्रज्य की स्थापना दंतिदुर्ग ने किया था |
  • यादव सम्राटों की राजधानी देवगिरि थी |
  • पाण्ड्य साम्राजय की राजधानी मदुरै थी |
  • भगवन नटराज का प्रसिद्ध मंदिर चिदंबरम में स्थित है |
  • राजेंद्र चोल के बंगाल अभियान के समय बंगाल का शासक महिपाल प्रथम था |
  • दक्षिण भारत का तक्कोलम युद्ध चोल वंश तथा राष्ट्रकूटों के बीच हुआ था |
  • होयसल स्मारक मैसूर में स्थित है |
  • रुद्रवा काकतीय वंश की प्रसिद्ध महिला शासक थी |
  • चोलों के शासन काल में सोने के सिक्कों को कुलंजु कहा जाता था |
  • चोल राजाओं ने शैवधर्म को संरक्षण प्रदान किया था |

मध्यकालीन भारत का इतिहास

  • सोमपुर महाविहार का निर्माण धर्मपाल ने करवाया था |
  • ब्लैक पगोड़ा कोणार्क में स्थित है |
  • लिंगराज मंदिर का नींव ययाति केसरी ने डाला था तथा यह भुवनेश्वर में स्थित है |
  • रामचरित की रचना संध्याकार नंदी ने किया था |
  • काव्यमीमांसा की रचना राजशेखर ने किया था |
  • मिताक्षरा पुस्तक की रचना विज्ञानेश्वर ने किया था |
  • शाहनामा के रचनाकार फिरदौसी हैं |
  •  मुहम्मद गौरी शंसावनी वंश का शासक था तथा उसने भारत पर पहला आक्रमण 1175 ई० में किया था |
  • तराइन का पहला युद्ध मुहम्मद गौरी तथा पृथ्वीराज चौहान के बीच सन 1191 ई० में हुआ था , जिसमे मुहम्मद गौरी की हार हुई थी |
  • तराइन का दूसरा युद्ध मुहम्मद गौरी तथा पृथ्वीराज चौहान के बीच सन 1992 ई० में हुआ था , जिसमे पृथ्वी राज चौहान की हर हुई थी |
  • पृथ्वी राज चौहान को रायपिथौरा के नाम से भी जाना जाता है |
  • पृथ्वीराजरासो की रचना चंदरबाई ने किया था |
  • तंजौर में स्थित राजराजेश्वर मंदिर का निर्माण राजराजा प्रथम ने कराया था |
  • राजराजेश्वर मंदिर शिव मंदिर है |
  • कांची के कैलाशनाथ मंदिर का निर्माण नरसिंह वर्मन द्वितीय ने कराया था |
  • राजराज प्रथम का वास्तविक नाम अरिमोल वर्मन था |
  • चोल शासकों ने श्रीलंका को जीत लिया था |
  • होयसल की राजधानी द्वारसमुद्र थी |
  • होयसल वंश का अंतिम शासक बल्लाल तृतीय था |
  • राष्ट्रकूटों का विनाश तैलप द्वितीय ने किया था |
  • तैलप द्वितीय ने तुंगभद्र नदी में कूदकर आत्महत्या कर लिया था |
  • विक्रमादित्य 6वें ने चालुक्य विक्रम सवंत का आरम्भ किया था |
  • चोल साम्रज्य का संस्थापक विजयपाल था |
  • चोलों का राज्य कोरोमंडल तट से दक्कन तक फैला था |
  • चोल काल ग्रामीण सभाओं के लिए प्रसिद्ध है |

Indian History | GK 2018 IN HINDI

  • चोल काल की सबसे प्रसिद्ध प्रतिमा नटराज की प्रतिमा है |
  • चोल युग में निर्मित कांस्य प्रतिमाओं में देवाकृति चतुर्भुज थी |
  • चोल कल में लोकमहादेवी ने हिरण्यगर्भ नामक त्यौहार का आयोजन किया था |
  • चोल काल में क़दीमे का अर्थ भू-राजस्व होता था |
  • चोल काल में वीर योद्धाओं को क्षत्रिय शिखमणी की उपाधि दिया जाता था |
  • पुलकेशिन द्वितीय हर्षवर्धन के समकालीन था |
  • राष्ट्रकूटों का काल कन्नड़ साहित्य का उत्पति काल माना जाता है |
  • श्रृंगारथ दीपिका की रचना वेंकट माधव ने किया था |
  • एलोरा के प्रसिद्ध कैलाश नाथ मंदिर का निर्माण राष्ट्रकूट शासक कृष्ण प्रथम ने किया था |
  •  पल्लवों की राजभाषा संस्कृत थी |
  • विरुपाक्ष मंदिर का निर्माण चालुक्यों ने करवाया था |
  • महाभारत का भारत वणता नाम से तमिल भाषा में अनुवाद पेरुंडेवनार ने किया था |
  • ऐहोल का लाढखाँ मंदिर सूर्य देवता देवता का है |
  • पल्लवों का एकाश्मीय रथ महाबलिपुरम् में है |
  • महाबलिपुरम् को माम्मलपुरम् भी कहा जाता है |
  • 12वीं सदी के राष्ट्रकूट वंश के पाँचशिला लेख कर्नाटक में मिले थे |
  • सबसे पहले जजिया कर मोहम्मद बिन कासिम ने लगाया था |
  • मुहम्मद गजनवी ने भारत पर 17 बार आक्रमण किया था |
  • मुहम्मद गजनवी ने सोमनाथ मंदिर पर 1125 ई ० में हमला किया था |
  • रानी पद्मिनी राणा रतन सिंह की पत्नी थीं |
  • भारत पर सबसे पहले मुहम्मद बिन कासिम ने आक्रमण किया था |
  • अलवर के संस्थापक अजयपाल थे |
  • बंगाल के पाल वंश का संस्थापक गोपाल था |
  • प्रतिहार वंश का संस्थापक हरिश्चंद्र थे |
  • सेन वंश का संस्थापक सामंत सेन थे |

भारत का इतिहास प्रश्न उत्तर

  • तोमर वंश का संस्थापक राजा अनंगपाल था |
  • राजस्थान के इतिहास का प्रणेता कर्नल टॉड को माना जाता है |
  • मुहम्मद गजनवी ने भारत पर पहला आक्रमण हिन्दुशाही राज्य के विरुद्ध किया था |
  • फिरदौसी मुहम्मद गजनवी का राजदरबारी कवी था |
  • वाहिंद का युद्ध महमूद गजनवी तथा आनंदपाल के बीच हुआ |
  • राजपूत काल छठी सदी से बारहवीं सदी तक माना जाता है |
  • मिहिर भोज का पुत्र महेन्द्रपाल था |
  • जगन्नाथ मंदिर ओडिशा में है |
  • दिल्ली का पुराना नाम दिल्लीका है |
  • विक्रमशिला विश्वविद्यालय की स्थापना धर्मपाल ने किया था |
  • भारत पर सबसे पहला तुर्क आक्रमण सुबुक्तगीन ने किया था | सुबुक्तगीन मुहम्मद गजनवी का पिता था |
  •  हिन्दुशाही राज्य की राजधानी उदभाण्डपुर थी |
  • जयदेव लक्ष्मण सेन की सभा में रहते थे |
  • कोणार्क सूर्य मंदिर की स्थापना नरसिंह प्रथम ने किया था |
  • प्रसिद्ध दिलवाड़ा जैन मंदिर माउन्ट आबू पर स्थित है |
  • प्रसिद्ध हिन्दू पुस्तक दायभाग की रचना जीमूतवाहन ने किया था |
  • खजुराहो में स्थित मंदिरो का निर्माण चंदेल शासकों ने किया था |
  • चंदावर का युद्ध जयचंद और मोहम्मद गौरी के बीच हुआ था |
  • भारत में मुस्लिम शासन की नीवं मुहम्मद गौरी ने डाला था |
  •  दिल्ली सल्तनत की राजभाषा फ़ारसी थी |
  • कुतुबमीनार का निर्माण कुतुबुद्दीन ऐबक ने शुरू कराया था तथा उसे पूरा इल्तुमिश ने कराया था |
  • सांकेतिक मुद्रा का चालन मोहम्मद बिन तुगलक ने कराया था |
  • दिल्ली की गद्दी पर बैठने वाली प्रथम महिला शासिका रजिया सुल्तान थी |
  • इब्नबतूता मोरक्को से भारत मोहम्मद बिन तुगलक के दरबार में आया था |
  • भारत में बाजार मूल्य नियंत्रण की शुरुवात अलाउद्दीन खिलजी ने किया था |

भारत का इतिहास प्रश्न उत्तर pdf

  • जलालुद्दीन फिरोज खिलजी की हत्या अलाउद्दीन खिलजी ने किया था |
  • बलबन के दरबार में सबसे अधिक गुलाम थे |
  • तुग़लक़नामा की रचना आमिर खुसरो ने किया था |
  • संगीत की हिंदुस्तानी शैली का जन्मदाता आमिर खुसरो था |
  • अलउद्दीन खिलजी को द्वितीय सिकंदर कहा जाता है |
  • चंगेज खां अपने आप को ईश्वर का अभिशाप कहता था |
  • फिरोजशाह तुगलक ने भारत में नहरों का सबसे ज्यादा विकास करवाया था |
  • सिकंदर लोदी ने भूमि की माप के लिए एक नए पैमाने गज-ए-सिकन्दरी  को प्रचलित किया था |
  • मुहम्मद बिन तुगलक की मृत्यु थट्टा में हुई थी |
  • अलाउद्दीन खिलजी के बचपन का नाम अली गुरशप था |
  • मोहम्मद गौरी के जीते गए प्रदेशों की देखभाल कुतुबुद्दीन ऐबक करता था |
  • indian history :- कुव्वत-उल-इस्लाम मस्जिद का निर्माण कुतुबुद्दीन ऐबक ने करवाया था |
  • लोदी वंश का अंतिम शासक इब्राहिम लोदी था |
  • अलबरूनी का पूरा नाम अबुरैहान मुहम्मद था |
  • अलाई दरवाजा कुतुबमीनार का मुख्य दरवाजा है |
  • तैमूर लंग ने भारत पर 1398 ई० में हमला किया था |
  • मोहम्मद बिन तुगलक अपनी राजधानी दिल्ली से दौलताबाद ले गया |
  • संगीत की कव्वाली शैली के जन्मदाता आमिर खुसरो हैं |
  • अढ़ाई दिन का झोपड़ा कुतुबुद्दीन ऐबक ने बनवाया था |
  • मोहम्मद गौरी ने सिक्को पर माँ लक्ष्मी की आकृति बनवायी थी |
  • मोहम्मद गौरी ने पंजाब के खोखरों के विरुद्ध अपना अंतिम आक्रमण किया था |
  • रजिया सुल्तान इल्तुमिश की बेटी थी |
  • मुबारकशाह खिलजी ने अपने आप को खलीफा घोषित कर लिया था |
  • सल्तनत काल में भू-राजस्व का सर्वोच्च अधिकारी मलिक कहलाता था |
  • भारत में पोलो खेल का आरम्भ तुर्कों के समय हुआ था |

भारत का इतिहास प्रश्नोत्तरी

  • भारत में गुलाम वंश की स्थापना कुतुबुद्दीन ऐबक ने 1206 ई० में किया था |
  • खिलजी वंश की स्थापना जलालुद्दीन खिलजी ने सन 1290 ई० में किया था |
  • अलाउद्दीन के आक्रमण के समय देवगिरि का शासक रामचद्र देव था |
  • आमिर खुसरो ने खड़ी बोली के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाया था |
  • आमिर खुसरो अलाउद्दीन खिलजी का दरबारी कवी था |
  • जलाउद्दीन खिलजी सुल्तान बनने से पहले बुलंदशहर का इक्तादार था |
  •  प्राचीन भारत का इतिहास notes;आगरा शहर का निर्माण सिकंदर लोदी ने करवाया था |
  • सिकंदर लोदी गुलऊखी उपनाम से कवितायेँ लिखता था |
  • मुहम्मद बिन तुगलक ने अपना उपनाम अबुल मजाहिद रख लिया था |
  • कुतुबुद्दीन ऐबक की मृत्यु चौगान खेलते समय हुई थी |
  • मोहम्मद बिन तुगलक को भारत का बुद्धिमान-पागल शासक कहा जाता है |
  • रेहला पुस्तक में मुहम्मद बिन तुगलक के शासन की घटनाओं का वर्णन है |
  •  अलाउद्दीन खिलजी के शासनकाल में सबसे अधिक मंगोल आक्रमण हुए थे |
  • फिरोजशाह तुगलक ने बेरोजगार लोगों को रोजगार दिया था |
  • दिल्ली सल्तनत के शासक अलाउद्दीन खिलजी ने स्थायी सेना बनाई थी |
  • बिलग्राम युद्ध को जितने के बाद शेरशाह सूरी ने अफगान सत्ता की स्थापना किया था |
  • बिलग्राम के युद्ध को कन्नौज के युद्ध के नाम से भी जाना जाता है |
  • बाबर के मुस्लिम कानून-नियमों का संग्रह मुबायींन नमक पुस्तक में है |
  • ईरानी शाहों और मुग़ल शासकों का झगड़ा कंधार के लिए था |
  • जहांगीर ने अपनी आत्मकथा फ़ारसी में लिखा था |
  • औरंगजेब की सेना में सबसे ज्यादा हिन्दू सेनापति थे |
  • महाभारत का फ़ारसी अनुवाद अकबर के शासन काल में हुआ था |
  • अकबर के शासनकाल में दशवंत सबसे प्रसिद्ध चित्रकार था |
  • ऐतामद-उद-दौला का मकबरा आगरा में स्थित है , उसे नूरजहां ने बनवाया था |
  • अकबर को कठाभरणवाणी की उपाधि तानसेन ने दिया था |

भारतीय इतिहास सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

  • बाबर के वंशजों की राजधानी समरकंद था |
  • बाबर ने अपनी आत्मकथा तुर्की भाषा में लिखा है | उसके आत्मकथा का नाम बाबरनामा है |
  • पानीपत के द्वितीय युद्ध में विक्रमादित्य की पराजय हुई थी |
  • बाबर का जन्म 1483 ई० में अफगान की राजधानी फरगना में हुआ था |
  • बाबर ने भारत पर पांच बार आक्रमण किया था |
  • बाबर फरगना का शासक सन 1495 ई० में बना था |
  • इस समय फरगना उज्बेकिस्तान में है |
  • इलाही सवंत की स्थापना अकबर ने किया था |
  • मयूर सिंहासन का निर्माण जहाँगीर ने करवाया था |
  • शेरशाह का मकबरा सासाराम बिहार में है |
  • indian history :- शाहजहानाबाद की स्थापना शाहजहाँ ने किया था |
  • खानवा का युद्ध राणा सांगा तथा बाबर के बीच सन 1527 ई० में हुआ था |
  • हुमांयुनामा की रचना गुलबदन बेगम ने किया था |
  • हिंदुस्तान में डाक प्रथा का प्रचलन शेरशाह सूरी ने किया था |
  • दिन-ऐ-इलाही धर्म की शुरुवात अकबर ने किया था |
  • अनुवाद विभाग की स्थापना अकबर ने किया था |
  • गुजरात विजय के उपलक्ष्य में अकबर ने बुलंद दरवाजा बनवाया था |
  • पानीपत का दूसरा युद्ध अकबर और हेमू के बीच सन 1556 ई० में हुआ था |
  • चौसा का युद्ध शेरशाह और हुमायु के बीच सन 1539 ई० में हुआ था |
  • हुमायु ने बिलग्राम का युद्ध सन 1540 ई० में किया था |
  • बाबरनामा का फ़ारसी अनुवाद अब्दुल रहीम खान-ऐ-खाना ने किया था |
  • नगीना मस्जिद आगरा में स्थित है |
  • मुगलो की राजकीय भाषा फ़ारसी थी |
  • ताजमहल का निर्माण शाहजहां ने करवाया था |
  • गैर-मुस्लिमों पर लगने वाला जजिया कर अकबर ने हटाया था |

भारत का इतिहास सामान्य ज्ञान pdf

  • शेरशाह सूरी मार्ग(ग्रांड ट्रंक रोड) का निर्माण शेरशाह सूरी ने करवाया था | यह रोड कोलकाता से अमृतसर जाता है |
  • अंतिम मुग़ल सम्राट बहादुर शाह द्वितीय था |
  • औरंगजेब का राज्याभिषेक दो बार हुआ था |
  • औरंगजेब को आलमगीर कहा जाता है |
  • रामचरित मानस की रचना अकबर के काल में हुई थी |
  • अकबर का राज्याभिषेक कालानौर में हुआ था |
  • पद्मावत की रचना मालिक मोहम्मद जायसी ने किया था |
  • मुमताज महल का वास्तविक नाम अर्जुमंद बानो बेगम था |
  • गुलबदन बेगम बाबर की पुत्री थी |
  • चंदेरी का युद्ध बाबर और मेदिनीराय के बीच हुआ था |
  •  मुग़ल वंश का संस्थापक बाबर था |
  • सुर साम्राज्य की स्थापना शेरशाह सूरी ने किया था |
  • पंचतंत्र का फ़ारसी अनुवाद अबुल फजल ने किया था |
  • ताजमहल बनाने वाले प्रमुख वास्तुकार उस्ताद ईशा खान थे |
  • औरंगाबाद में बीबी का मकबरा स्थित है |
  • हल्दीघाटी का युद्ध सन 1576 ई० में मुगलो और राणा प्रताप के बीच हुआ था |
  • संगीतज्ञ तानसेन का मकबरा ग्वालियर में  स्थित है |
  • भानचन्द्र चरित की रचना सिद्धचन्द्र ने किया था |
  • ताजमहल के निर्माण में लगभग 22 वर्ष का समय लगा था |
  • औरंगजेब के समय मुगलों के पास सबसे ज्यादा क्षेत्र था |
  • औरंगजेब ने सिक्खों के गुरु तेग बहादुर की हत्या करवा दिया था |
  • प्राचीन भारत का इतिहास pdf ;हुमायु गद्दी पर सन 1530 ई० में हुआ था |
  • अकबर के शासनकाल को हिंदी साहित्य का स्वर्णकाल कहा जाता है |
  • आईने-अकबरी अबुल फजल द्वारा लिखा गया है |
  • नादिरशाह ने भारत पर सन 1739 ई० में आक्रमण किया था |

indian history in hindi pdf

  • हल्दी घाटी युद्ध में मुगलों का नेतृत्व राजा मानसिंह ने किया था |
  • रानी दुर्गावती अकबर के समय शासन करती थीं |
  • धरमत का युद्ध औरंगजेब और दारा शिकोह के बीच 1628 ई० में हुआ था |
  • दास प्रथा का अंत अकबर ने किया था |
  • औरंगजेब ने अपने पिता को कैद कर लिया था |
  • पानीपत का प्रथम युद्ध 1526  ई० में बाबर और इब्राहिम लोदी के बीच हुआ था |
  • शेरशाह के समय भू-राजस्व की दर उपज का 1/3 भाग था |
  • जहांगीर अपने न्याय के लिए प्रसिद्द है |
  •  जजिया कर को औरंगजेब ने फिर से लागु कर दिया था |
  • बाबर पंजाब से होकर भारत में आया था |
  • जाब्ती प्रणाली का जन्मदाता शेरशाह सूरी था |
  • पट्टा एवं कबूलियत की प्रथा का जन्मदाता शेरशाह सूरी था |
  • बुलंद दरवाजा का निर्माण 1575 ई० में पूरा हुआ था |
  •  मुगलकाल का सबसे प्रसिद्ध राजा अकबर है |
  • दिन-ए-इलाही धर्म स्वीकार करने वाला प्रथम और अंतिम हिन्दू बीरबल था |
  • महान संगीतज्ञ तानसेन अकबर के दरबारी थे |
  • बौद्ध विहार का नक़ल करके अकबर ने पंचमहल का निर्माण करवाया था |
  • मुस्लिम विद्वान अब्दुल रहीम खान-ए-खाना का हिंदी साहित्य में बहुत बड़ा योगदान है |
  •  नूरुद्दीन की उपाधि शाहजहां को दी गयी है |
  • सूफी सिलसिले मुस्लिम धर्म से सम्बंधित हैं |
  • शेख सलीम चिश्ती अकबर का समकालीन थे |
  • औरंगजेब की जिंदा पीर के नाम से भी जाना जाता है |
  • अकबर के युवाकाल में उसका संरक्षक बैरम खां था |
  • बीबी का मकबरा द्वितीय ताजमहल कहा जाता है |
  • औरंगजेब राजा बनने से पहले दक्कन का गवर्नर था |

इंडियन हिस्ट्री | HINDI GK 2018

  • जहांगीर के शासनकाल को चित्रकला का स्वर्णकाल कहा जाता है |
  • शाहजहां मुग़ल साम्राज्य की राजधानी आगरा से दिल्ली ले गया |
  • बाबर अपनी उदारता के कारण कलंदर नाम से प्रसिद्ध था |
  • शाहजहां ने गुण समंदर की उपाधि ग्रहण किया था |
  • भगवत गीता और रामायण का फ़ारसी अनुवाद दारा शिकोह ने करवाया था |
  • दिन पनाह नगर की स्थापना हुमायु ने करवाया था |
  •  श्रीनगर में स्थित शालीमार और निशांत बाग जहांगीर द्वारा निर्मित हैं |
  • जहांगीर ने निसार नामक सिक्के को प्रचलित किया था |
  • बाबर की प्रसिद्ध युद्ध निति तुग़लक़नाम निति का प्रयोग सर्वप्रथम पानीपत के प्रथम युद्ध में हुआ था |
  • न्याय के लिए शाहजहाँ ने अपने महल मे सोने की जंजीर लगवाया था |
  • महिला सूफी संत राबिया बसरा में रहती थी |
  • ख्वाजा मुईनुद्दीन चिश्ती मोहम्मद गौरी के साथ भारत आये थे |
  • सूफी संत शेख अहमद सरहिंदी को जहाँगीर ने कैद कर लिया था |
  • भक्ति आंदोलन के प्रतिपादक रामानुज आचार्य थे |
  • रामानंद कबीर दास के गुरु थे |
  • रामानंद ने भक्ति आंदोलन को दक्षिणी भारत से लाकर उत्तरी भारत में प्रचार-प्रसार किया था |
  • असम में भक्ति आंदोलन के प्रचार-प्रसार का कार्य शंकर देव ने किया था |
  • बीजक के रचनाकार कबीरदास थे |
  • संत तुकाराम मुग़ल सम्राट जहांगीर के समकालीन थे |
  • शिवाजी महाराज के आध्यात्मिक गुरु रामदास थे |
  • रामदास ने अमृतसर शहर का स्थापना किया था |
  • सिक्ख धर्म की स्थापना गुरु नानक देव ने किया था |
  • गुरुनानक देव का जन्म स्थल तलवंडी को अब ननकाना साहिब के नाम से जाना जाता है |
  • सिक्खो के दसवें और अंतिम गुरु ,  गुरु गोविन्द सिंह थे |
  • सिक्ख गुरु रामदास ने पंजाबी भाषा के लिए गुरुमुखी लिपि का शुरुवात किया था |

हिस्ट्री ऑफ़ इंडिया इन हिंदी

  • पंजाब में  भक्ति आंदोलन के जनक गुरु नानक देव थे |
  • गुरुनानक देव का जन्म 1469 ई० में तलवंडी में हुआ था |
  • अद्वैतवाद के सिद्धांत का प्रतिपादन शंकराचार्य ने किया था |
  • रामचरित्र मानस की रचना तुलसीदास ने किया है |
  • नरसिंह मेहता गुजरात के प्रमुख संत थे |
  • सिक्खों का प्रमुख त्यौहार बैसाखी है |
  • कबीरदास का जन्म लहरतारा काशी में हुआ था |
  • तुलसीदास का जन्म बाँदा जिले के राजापुर ग्राम में हुआ था |
  • संत रामानुज के अनुयायी को वैष्णव कहा जाता था |
  • कबीरदास की मृत्यु मगहर उत्तर प्रदेश में हुई थी |
  • दास बोध के रचनाकार रामदास हैं |
  •  निपख नामक धर्म आंदोलन दादूदयाल ने चलाया था |
  • रैदासी संप्रदाय की स्थापना संत रैदास ने किया था |
  • संत रैदास रामानंद के शिष्य थे |
  • मीराबाई राजकुमार भोजराज की पत्नी थीं |
  • मुग़ल शासक मुहम्मदशाह शिव नारायण संप्रदाय का अनुयायी था |
  • चैतन्य महाप्रभु गौडीय संप्रदाय से जुड़े थे |
  • शंकर देव को असम का चैतन्य कहा जाता है |
  • विजयनगर राज्य की स्थापना हरिहर और बुक्का नामक भाइयों ने सन 1336 ई० में किया था |
  • हरिहर और बुक्का ने संत माधव विधारण्य से प्रभावित होकर विजय नगर राज्य स्थापित किया था |
  • हरिहर और बुक्का के पिता का नाम संगम था |
  • विजयनगर राज्य तुंगभद्रा नदी के तट पर स्थित था |
  • बीजापुर के गोल गुम्बज का निर्माण मोहम्मद आदिलशाह ने करवाया था |
  • विजयनगर राज्य का कालीकट स्थान गलीचा निर्माण के प्रसिद्ध था |
  • विजयनगर राज्य का सबसे प्रसिद्ध राजा कृष्णदेव राय थे | वह 1509 ई० में विजयनगर राज्य के राजा बने |

history notes in hindi | Samany Gyan 2018 pdf

  • बहमनी राज्य की स्थापना हसन गंगू उर्फ़ अलाउद्दीन हसन बहमन शाह ने किया था |
  • बहमनी राजाओं की राजधानी गुलबर्गा में थी |
  • बहमनी राज्य को उसके चरम तक महमूद गांवा ने पहुंचाया |
  • महमूद गांवा को टोडरमल का पूर्वगामी कहा जाता है |
  • मीनाक्षी मंदिर मदुरै में स्थित है |
  • हम्पी का संग्रहालय कर्णाटक में स्थित है |
  • गोलकुंडा का युद्ध कृष्णदेव राय और कुलीकुतुबशाह के बीच हुआ था |
  • तालीकोटा का युद्ध 1565 ई० में हुआ था |
  • खानदेश राज्य की स्थापना मलिक रजा फारुकी ने किया था |
  • indian history :- विजयनगर की मुद्रा का नाम पेगोडा था |
  • देवराय द्वितीय ने दहेज़ प्रथा को अवैधानिक घोषित किया था |
  • देवराय द्वितीय ने गजबेतेकर उपाधि ग्रहण किया था |
  • देवराय द्वितीय को प्रौढ़देवराय भी कहा जाता है |
  • महमूद वेगड़ा गुजरात का प्रसिद्ध राजा था |
  • लिपाक्षी को शैवों का अजंता कहा जाता है |
  • कृष्णदेव राय का राज कवी पेदन्ना था |
  • गोलकुंडा हैदराबाद में स्थित है |
  • संगम वंश का प्रमुख शासक देवराय प्रथम था |
  • तुंगभद्रा नदी पर बांध देवराय प्रथम ने बनवाया था |
  • विजयनगर राज्य के अवशेष हम्पी में प्राप्त हुए थे |
  • जैनुल आबिदीन को कश्मीर का अकबर के नाम से जाना जाता है |
  • विट्ठल स्वामी मंदिर में भगवान विष्णु की पूजा विट्ठल स्वामी के नाम से की जाती है |
  • बहमनी साम्राज्य का बरार राज्य सबसे पहले स्वतंत्र हुआ था |
  • बहमनी राज्य की मुद्रा हूण था |
  • हुमायु शाह को जालिम शासक के नाम भी जाना जाता है |

मध्यकालीन भारत का इतिहास | Indian History

  • कृष्णदेवराय बाबर के समकालीन थे |
  • चार मीनार का निर्माण ओली कुतुबशाह ने करवाया था |
  • विजयनगर साम्रज्य में आठवण भू-राजस्व विभाग को कहा जाता था |
  • कृष्णदेव राय ने आमुक्तमालाद नामक काव्य की रचना तेलुगु में किया था |
  • वीर पांचला का अर्थ अभजात्य वर्ग होता है |
  • अहमदाबाद की स्थापना अहमदशाह प्रथम ने किया था |
  • बहमनी शासन काल में रुसी यात्री निकितन आया था |
  • हरविलास की रचना श्रीनाथ ने किया था |
  • अनरम का अर्थ जागीर होता है |
  • कृष्णदेव राय को विजय नगर साम्राज्य का आंध्र पितामह कहा जाता है |
  •  देवराय पथम संगम वंश का प्रमुख शासक था |
  • विजयनगर राज्य में सैनिक विभाग को कदाचार नाम से जाना जाता था |
  • मध्यकालीन भारत का इतिहास ; अदीना मस्जिद बंगाल में स्थित है |
  • विजयनगर में वर-वधु से कर लिया जाता था |
  • कृष्ण देव राय का पुर्तगालियों के साथ मैत्रीपूर्ण सम्बन्ध थे |
  • तैमूर लंग के आक्रमण के बाद गंगा घाटी में जौनपुर राज्य स्थापित हुआ था |
  • बहमनी राज्य में कुल 18 राजाओं ने शासन किया था |
  • तालीकोटा का युद्ध विजयनगर साम्राज्य का अंत माना जाता है |
  • तालीकोटा के युद्ध में विजयनगर साम्राज्य का नेतृत्व रामराय ने किया था |
  • विजयनगर राज्य का प्रसिद्ध विट्ठल मंदिर हम्पी में स्थित है |

मराठों का इतिहास | मराठा साम्राज्य | शिवाजी का राज्य

  • अभिनव भोज की उपाधि कृष्ण देव राय ने ग्रहण किया था |
  • प्रसिद्ध ऐतिहासिक स्थल हम्पी , वेल्लारी जिले में स्थित है |
  • गुरिल्ला युद्ध के जन्मदाता शिवाजी थे |
  • शिवाजी का राज्याभिषेक रायगढ़ में हुआ था |
  • मराठों ने यादवों के अधीन कार्य करके अनुभव प्राप्त किया था |
  • शिवाजी के शासनकाल में पेशवा प्रधानमंत्री को कहा जाता था |
  • शिवाजी का जन्म शिवनेर के किले में हुआ था |
  • शिवाजी का राज्याभिषेक रायगढ़ में हुआ था |
  • शिवाजी के संरक्षक और गुरु दादा जी कोंड देव थे |
  • शिवाजी की माता का नाम जीजाबाई था |
  • शिवाजी का राज्याभिषेक 1674 ई० में हुआ था |
  • Indian history शिवाजी औरंगजेब के दरबार में सन 1666 ई० में गए थे |
  • शिवाजी की आय का मुख्य श्रोत चौथ था |
  • मराठा शासनकाल में सर-ए-नौबत का अर्थ सेनापति होता था |
  • मुगलों के कैद से भागने के समय शिवाजी आगरा की जेल में थे |
  • औरंगजेब ने शिवाजी को पहाड़ी चूहा व साहसी डाकू कहा था |
  • शिवाजी के समय भू-राजस्व का 33% राजस्व के रूप में वसूला जाता था |
  • शिवाजी की मृत्यु सन 1680 ई० में हुई थी |
  • पुरंदर की संधि मराठों और मुगलों के बीच हुई थी |
  • मराठा राज्य संघ की स्थापना बालाजी विश्वनाथ के शासनकाल में हुआ था |
  •  सरेजामी प्रथा मराठों से सम्बंधित है |
  • ग्वालियर की स्थापना जीवाजीराव सिंधिया ने किया था |
  • झलकी की संधि बालाजी बाजीराव और हैदराबाद के निजाम के बीच हुआ था |
  • शिवाजी से युद्ध करने के लिए औरंगजेब ने जयसिंह को भेजा था |
  • पानीपत का तीसरा युद्ध अहमदशाह अब्दाली और पेशवा बाजीराव द्वितीय के बीच सन 1761 ई० में हुआ था |

भारत का मध्यकालीन इतिहास : Indian History

  • खेड़ा का युद्ध सन 1707 ई० में तथा पालखेड़ा का युद्ध 1728 ई ० में हुआ था |
  • बीजापुर के सुल्तान ने अफजल खाँ को शिवाजी को जिंदा या मुर्दा पकड़ने के लिए भेजा  था |
  • पेशवा बाजीराव द्वितीय ने सबसे पहले लॉर्ड वेलेजली की सहायक संधि को स्वीकार किया
  • हवा महल जयपुर में स्थित है |
  • राणाप्रताप के घोड़े का नाम चेतक था |
  • सबसे पुराना वाद्य यंत्र विणा है |
  • अमरावती बौद्ध स्तूप आंध्रप्रदेश में स्थित है |
  • गुरु गोविन्द सिंह ने फारसी में जफरनामा लिखा था |
  • मुहम्मद शाह को रंगीला बादशाह कहा जाता है |
  • अहमद शाह अब्दाली ने भारत पर 8 बार आक्रमण किया था |
  • औरंगजेब के शासनकाल में बंगाल का नबाब मुर्शिद कुली खां था |
  • सामुगढ़ का युद्ध 1658 ई० में हुआ था |
  • हैदर अली सन 1761 में मैसूर के शासक बने थे |
  • माधवराव सन 1761 ई० में पेशवा बने थे |
  • नादिरशाह को ईरान का नेपोलियन कहा जाता है |
  • जहाँगीर की पत्नी नूरजहाँ का वास्तविक नाम मेहरुनिशा था |
  • आदिग्रंथ का समायोजन गुरु अर्जुन देव ने किया था |
  • खजुराहो का मंदिर मध्य प्रदेश मध्य प्रदेश में स्थित है |
  • सन 1672 ई० में सलाहर के युद्ध में शिवाजी ने मुगलों की हराया था |
  • गुरु गोविन्द सिंह ने खालसा पंथ की नीवं सन 1699 ई० में डाला था |
  • अवध के शासकों को नवाब वजीर कहा जाता था |
  • भारत के अंतिम मुग़ल सम्राट बहादुरशाह जफ़र(द्वितीय) का मकबरा रंगून , म्यांमार में स्थित है |
  • नादिरशाह ने भारत पर पहला आक्रमण सन 1739 ई० में किया था |
  • आगरा की जामा मस्जिद का निर्माण जहाँआरा ने करवाया था |
  • औरंगजेब ने बीबी का मकबरा का निर्माण सन 1679 ई० में करवाया था |

आधुनिक भारत का इतिहास : modern history of India

  • गुरु नानक देव का जीवन परिचय गुरु अर्जुन देव ने लिखा है |
  • अंग्रजों के समय में बिहार अफीम उत्पादन के लिए प्रसिद्ध था |
  • कलकत्ता मेडिकल कॉलेज की स्थापना विलियम बैंटिक ने किया था |
  • साइमन कमीशन की स्थापना लार्ड डलहौजी ने किया था |
  • नील दर्पण के लेखक दीनबंधु मित्र हैं |
  • नील दर्पण नील उगाने वाले किसानों पर लिखा गया है |
  • अंग्रजो द्वारा पहला कॉफ़ी बगान वायनाड में लगाये गए थे |
  • भारत में पहली रेलवे लाइन जार्ज कलार्क ने बिछवाया था |
  • भारत में पहली जनगणना लार्ड मेयो के समय में हुई थी |
  • बैरक पुर में सैनिक अभियान सन 1824 ई० में आरम्भ हुआ था |
  • पहली बार महलावादी प्रथा सन 1822 ई० में लागु हुई थी |
  • Indian history free hindi pdf नरबली प्रथा का अंत लार्ड डलहौजी के समय में हुआ था |
  • भारत में सर्वप्रथम इस्पात का उत्पादन सन 1913 ई० में शुरू हुआ था |
  • पावर्टी एंड अनब्रिटिश रुल इन इंडिया के लेखक दादाभाई नौराजी हैं |
  • भारत में आधुनिक उद्योगों की स्थापना 1850 ई० में शुरू हो गयी थी |
  • भारत में पहली पटसन मिल रिशारा , बंगाल में शुरू की गयी थी |
  • लार्ड कर्जन ने सिंचाई विभाग का गठन किया था |
  • कृषि विभाग का गठन 1872 ई० में हुआ था |
  • रैयत वादी व्यवस्था सर थॉमस मुनरो की ददेन है |
  • भारत का पहले समाचार पत्र बंगाल गजट है , जिसका प्रकाशन सन 1780 में शुरू हुआ था |
  • भारत में डाक टिकट की शुरुवात लार्ड डलहौजी ने किया था |
  • रेल विभाग के लिए पहली बार पृथक रूप से रेल बजट सन 1924 में पेश किया था |
  • सन 1866 ई० में उड़ीसा में भीषण अकाल पड़ा था |
  • सहायक संधि का सिद्धांत लार्ड वेलेजली ने दिया था |
  • गीता का अंग्रेजी अनुवाद विलियम विलकिन्स ने किया था |

आधुनिक भारत – modern India  history

  • भारतीयों द्वारा स्थापित पहला बैंक अवध कॉमर्शियल बैंक था , जिसे सन 1881 ई० में स्थापित किया गया था |
  • कार्ल मार्क्स ने भारत में रेलवे की स्थापना को आधुनिक उद्योग की जननी कहा था |
  • सर्वप्रथम लोहा इस्पात उद्योग की स्थपना बिहार में हुआ था |
  • लौहगढ़ किले का निर्माण बंदा बहादुर ने करवाया था |
  • मुगल बादशाह फर्रुखासियर ने बंदा बहादुर का हत्या करवा दिया था |
  • भारत का इतिहास ;पंजाब में सिख राज्य के संस्थापक रणजीत सिंह थे |
  • महाराजा रणजीत सिंह और अंग्रजों के बीच अमृतसर की संधि हुई थी |
  • वारेन हेस्टिंग्स ने कलकाता उच्च न्यायलय की स्थापना करवाया था |
  • बनारस संस्कृत विश्विद्यालय के संस्थापक जोनाथन डंकन थे |
  • भारत में सहायक संधि के जन्मदाता डुप्ले था |
  • शाइस्ता खां ने चंद्रनगर की बस्ती फ्रांसीसियों को भेंट किया था |
  • पुर्तगालियों ने गोवा पर सन 1510 ई० में अधिकार कर लिया था |
  • इस्ट इण्डिया कंपनी को 1600 ई० में मान्यता मिला था |
  • राबर्ट क्लाइव का उतराधिकारी वारेन हेस्टिंग था |
  • राज्य हड़प की निति लार्ड डलहौजी ने अपनाई थी |
  • भारत का प्रथम वायसराय लार्ड कैनिंग था |
  • बक्सर के युद्ध में अंग्रजों का नेतृत्व हेक्टर मुनरों ने किया था | यह युद्ध 1764 ई० में हुआ था |
  • ठगी प्रथा का शुरुवात विलियम बैंटिक ने किया था |
  • अंग्रेजो का सबसे अधिक विरोध मराठों ने किया था |
  • सर थॉमस रो ने जहाँगीर को भेंट दिया था |
  • अंग्रेजों ने अपना पहला फैक्ट्री सुरत में लगाया था |
  • जहाँगीर ने हंकिस को खां की उपाधि दिया था |
  • भारत में पुर्तगाली साम्राज्य का संस्थापक अल्फ़ान्सो डी अलबुकर्क को माना जाता है |
  • अल्फ़ान्सो डी अलबुकर्क ने गोवा पर अधिकार कर लिया था |
  • डचो ने गोवा पर 1639 ई० में किया था |

मॉडर्न हिस्ट्री | Indian history in hindi pdf

  • डचो ने अपनी पहली फैक्ट्री मसुलिपत्तनम में सन 1605 में स्थापित किया था |
  • हेस्टिंग के समय में बोर्ड ऑफ़ रेवन्यू की स्थापना हुई थी |
  • बालिका हत्या पर सन 1830 में प्रतिबन्ध लगा था |
  • कराची कांग्रेस अधिवेशन के अध्यक्ष सरदार बल्लभ भाई पटेल थे |
  • कलकत्ता में पहला मदरसा 1172 ई० में बनाया गया था |
  • स्थायी बंदोबस्त का सिद्धांत लार्ड कार्नवालिस ने दिया था |
  • श्रीरंगपट्टम की संधि की संधि टीपू सुल्तान और अंग्रेजों के बीच हुई थी |
  • टीपू सुल्तान की मृत्यु सन 1799 ई० में श्रीरंगपट्टम में हुई थी |
  • Indian history pdf download श्रीरंगपट्टम टीपू सुल्तान की राजधानी थी |
  • राजा सूरजमल को जाटों का अफलातून कहा जाता था |
  • रणजीत सिंह को लाहौर विजय के बाद महाराजा की उपाधि मिली थी |
  • महाराजा रणजीत सिंह की राजधानी लाहौर थी |
  • ठगों का दमन कर्नल स्लिमेन ने किया था |
  • आधुनिक भारत का इतिहास ;मुगलों ने डुप्ले को नवाब कहा था |
  • सांगोला की संधि सन 1750 ई० में हुई थी |
  • मुंशी गाँव की संधि पलखेड़ा युद्ध के बाद हुई थी |
  • अंग्रजो ने पाण्डिचेरी को फ्रांसीसियों से सन 1761 ई० में छीन लिया था |
  • सिराजुद्दौला को रोबर्ट क्लाइव ने सन 1757 में हराया था |
  • समुद्री मार्ग से भारत की खोज वास्कोडिगामा ने सन 1498 ई० में किया था , वह पुर्तगाली था |
  • वास्कोडिगामा भारत के कालीकट बदरगाह पर उतरा जहाँ उसका स्वागत कालीकट के राजा जमोरिन ने किया था |
  • डुप्ले भारत का फ्रेंच गवर्नर सन 1742 ई० में बना था |
  • वंदीवश का युद्ध सन 1760 ई० में हुआ था |
  • वंदीवाश के युद्ध में अंग्रजों का नेतृत्व सर आयर कूट ने किया था |
  • विलियम बैंटिक का कार्यकाल भारतीय शिक्षा में सुधार का काल माना जाता है |
  • स्थाई बंदोबस्त लार्ड कार्नवालिस ने लागु किया था , जिसके अन्दर जमींदारी प्रथा ने जन्म लिया था |

History of India in hindi book | इंडियन हिस्ट्री इन हिंदी पीडीएफ

  • जमींदारों को कुल राजस्व का 89% भाग सरकार को देना पड़ता था |
  • सबसे पहले यह व्यवस्था मद्रास और मुंबई(बम्बई) में लगाई गयी थी |
  • बिहार और बंगाल में इस व्यवस्था की शुरुवात लार्ड कार्नवालिस ने किया था |
  • द इकोनामी हिस्ट्री ऑफ़ इण्डिया के लेखक रमेश चन्द्र दत्त हैं |
  • सुरक्षा प्रकोष्ठ निति वारेन हेस्टिंग से सम्बंधित है |
  • मीर कासिम अपनी राजधानी मुर्शिदाबाद से मुंगेर ले गया था |
  • चुरामन ने ग्रामीण जाटों को एक सैनिक के रूप में संगठित किया था |
  • सिंध विजय का श्रेय सर चार्ल्स नेपियर को दिया जाता है |
  • Modern Indian history भारत में डेनमार्क की प्रथम व्यापारिक कंपनी का गठन 1616 ई० में हुआ था |
  • पाण्डिचेरी राज्य की स्थापना 1674 ई० में हुई थी , और उसका संस्थापक फ्रांसिस मार्टिन था |
  • डुप्ले के बाद पाण्डिचेरी का गवर्नर जनरल गोदेहू बना था |
  • अंग्रजो ने फ्रांसीसियों से पाण्डिचेरी सन 1761 ई० में हड़प लिया था |
  • इलाहबाद की संधि 1765 ई० में हुई थी |
  • भारत का इतिहास ; वोडायर मैसूर के शासक थे |
  • गोवा , दमन और द्विव का उपनिवेशीकरण पुर्तगालियों द्वारा किया गया था |
  • तीसरे कर्नाटक युद्ध की संधि को पेरिस की संधि के नाम से जाना जाता है |
  • बक्सर के युद्ध के समय दिल्ली का शासक शाहआलम द्वितीय था |
  • शाहआलम द्वितीय ने ब्रिटिश ईस्ट इण्डिया कंपनी को दीवानी प्रदान किया था |
  • भारत में अंग्रजो को भूमि खरीदने और बसने की अनुमति सन 1833 ई० में मिली थी |
  • विद्युत् से चलने वाली पहले तार सेवा कलकत्ता और आगरा के बीच शुरू हुई थी |
  • महाराजा रणजीत सिंह के उतराधिकारी का नाम खड़क सिंह थे |
  • सिंध का भारत में विलय के समय भारत का गवर्नर जनरल लार्ड एलानाबरो था |
  • पाण्डिचेरी का गवर्नर जनरल बनने से पहले डुप्ले चंद्रनगर का गवर्नर था |
  • राज्य हड़प निति के अंतर्गत भारत के राज्य झाँसी , अवध , संबलपुर , जयपुर , सतारा और नागपुर हड़प लिए गए |
  • Indian history अपनी पहली फक्ट्री लगाने के लिए अंग्रेजो ने अनुमति जहाँगीर से प्राप्त किया था |
  • भारत आने वाला पहला डच यात्री कारनेलिस डहस्तमान था |
  • सन 1954 ई० में फ़्रांस सरकार ने भारत में स्थित फ्रांसिस बस्तियों का अधिकार भारत को दिया था |
  • कॉर्नवालिस को भारत में प्रशासनिक सेवा का जनक कहा जाता है |
  • भारत में आधुनिक शिक्षा प्रणाली की शुरुवात सन 1835 ई० में हुई थी |
  • पुर्तगालियों ने गोवा पर सन 1510 में अधिकार कर लिया था |
  • सुगौली की संधि अंग्रेजों और नेपाल के बीच हुई थी |
  • रोबर्ट क्लाइव को बंगाल का गवर्नर सन 1757 ई० में बनाया गया था |
  • पुर्तगालियों का पहला भारतीय गवर्नर फ्रांसिस्को डी अल्मीडा था |
  • पुर्तगालियों की पहली व्यापारिक कोठी कोचीन में बनी थी |
  • काश्तकारी अधिनियम सन 1822 ई० में लागु किया गया था |
  • राजा शिताबराय को अंग्रजों ने बिहार का दीवान बनाया था |
  • भारत में सबसे पहले तम्बाकू की खेती पुर्तगालियों ने शुरू किया था |
  • ईस्ट इण्डिया कंपनी का पहला भारतीय गवर्नर वारेन हेस्टिंग्स था |
  • बेसिन की संधि पेशवा बाजीराव द्वितीय और अंग्रेजों के बीच हुई थी |
  • ब्रिटिश काल में अनाधिकृति समुद्री व्यापारियों को इंटरलोपर्स या समुद्री लुटेरे कहा जाता था |
  • अवध के स्वायत्त राज्य की संस्थापक सादत खाँ ‘बुरहान-उन-मुल्क’था |
  • शाहआलम द्वितीय के शासनकाल में अंग्रजों ने दिल्ली पर कब्ज़ा किया था |
  • भारत में सबसे पहले पुर्तगालियों ने अपना व्यापार फैलाया था |
  • गोद लेने की प्रथा पर लार्ड डलहौजी ने प्रतिबन्ध लगाया था और इसके अंतर्गत झाँसी राज्य को हड़प लिया गया |
  • सन 1948 की औधोगिक निति में सरकारी नियंत्रण में रखे गए उद्योगों की संख्या 18 थी |

इस सामान्य ज्ञान  ‘ भारत का इतिहास ( indian history ) ‘ का पीडीऍफ़ डाउनलोड तैयार किया जा रहा है और जल्द ही free डाउनलोड करने के लिए उपलब्ध हो जायेगा | अगर आपको यह सामान्य ज्ञान उपयोगी लगा हो तो please इसे share जरूर करें |

source :- wikipedia.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *